Thundan/ September 1, 2017/ Hindi Romantic Stories, Hindi Sex Stories

Meri Sex Story Par Aakhilesh Ki Prem Kahani – Chahat Se Chut Tak Ka 3rd Part…
लेखक – अखिलेश कुमार
सम्पादिका – मस्त कामिनी
अब मैंने अपनी जीभ, उसकी प्यारी सी छोटी चूत पर रख दी और उसकी चूत को चाटने लगा..
जैसे जैसे मैं चूत चाट रहा था, वो अपनी गांड उठा रही थी.. ..
मेरे सिर को, अपनी जांघों से दबा रखा था।
मैंने अब एक हाथ से उसकी गांड पकड़ रखी थी और दूसरे से उसके बूब्स दबा रहा था।
मैं उसकी चूत से अपनी जीभ, उसकी जांघों तक ला रहा था और फिर, जांघों से चूत तक।
अब वो भी गर्म हो गई थी..
अब मैं बैठ कर, उसके पैरों को अपने में गोद में ले लिया और धीरे धीरे, उसके स्कर्ट को ऊपर उठाने लगा।
अधखुली आँखों से देख रही थी और मुस्कुरा रही थी..
उसकी आँखें, नशीली लग रही थी।
मैंने उसे बेड के किनारे लिटा दिया और उसके पैर मोड़ दिए..
अपना लंड, उसकी चूत पर रख दिया..
उँगलियों से मैंने उसकी चूत फैलाई और धीरे धीरे, लंड पर दवाब देना शुरू किया लेकिन उसकी टाइट थी कि लंड अंदर नहीं जा रहा था।
सोनी ने अपना हाथ मेरे पेट पर रखा था..
जैसे ही, मैं थोड़ा जोर लगता उसे दर्द होता और हाथों से मुझे रोक देती।
वो बोली – नहीं राज, प्लीज़ आज छोड़ दो… फिर किसी दिन करेंगे, बहुत दर्द हो रहा है।
मैंने उसे बहुत मनाया तब जाकर, वो तैयार हुई..
मैंने अपने लंड पर क्रीम लगाई और अपनी ऊँगली से उसकी चूत में क्रीम लगाई और फिर से लंड डालने लगा..
अब लंड धीरे धीरे अंदर जा रहा था, सोनी अपने नीचे वाले होंठ को दांतों से दबाये थी।
अब मेरा लंड थोड़ा सा अंदर गया और मैं थोड़े से लंड को, अंदर बाहर करने लगा।
सोनी को बहुत दर्द हो रहा था जबकि मुश्किल से, 2 इंच लंड अंदर गया होगा।
खैर…
मैं वैसे ही, 2 इंच लंड अंदर बाहर कर रहा था..
मस्त कहानियाँ हैं, मेरी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर !!! !!
अचानक, मैं रुका और सोनी की गांड को दोनों हाथों से पकड़ कर एक जोर का शॉट मारा..
लंड दनदनाता हुआ, चूत में चला गया और सोनी जोर से चीखी और उठने की कोशिश करने लगी..
वो कुछ बोल भी नहीं पा रही थी, आँखों से आँसू निकल रहे थे।
उसकी चूत से खून नहीं निकला, अब यह पता नहीं कि वो “अक्षत यौवना” थी या नहीं, अगर किया भी होगा तो शायद 1-2 बार।
खैर, इससे मुझे क्या लेना, उसकी चूत मस्त थी, टाइट थी।
हाँ तो अब, सोनी धीरे धीरे सामान्य हो रही थी..
मैं अब उसे बेड पर थोड़ा ऊपर खींच कर उसके ऊपर लेटा था और मेरा लंड सोनी की मस्त, चिकनी, टाइट चूत के अंदर था..
मैं दोनों हाथों से उसके गालों को सहला रहा था, उसे चूम रहा था और उसके बालों में हाथ घुमा रहा था।
करीब 5 मिनट के बाद, जब वो थोड़ा शांत हुई तो मैंने अपना लंड थोड़ा सा निकाला और फिर जैसे ही दुबारा डालने लगा वो फिर से दर्द से चीखी, बोली – राज प्लीज़, आज छोड़ दो।
मैंने उससे कहा- थोड़ी देर में दर्द कम जायेगा, बस थोड़ा बर्दाश्त करो।
अब मैं अपना लंड, धीरे धीरे अंदर बाहर करने लगा..
मेरे लंड पर टाइट चूत की जकड़न महसूस हो रही थी, अजीब सा उन्माद महसूस कर रहा था।
सोनी किसी तरह, दर्द सह रही थी..
उसकी दोनों आँखों के कोनों से आँसू निकल रहे थे..
मस्त कहानियाँ हैं, मेरी सेक्स स्टोरी डॉट कॉम पर !!! !!
अब मैंने चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दिया था, सोनी दर्द से कराह रही थी..
मैंने उसकी यह हालत देख कर, जल्दी जल्दी चुदाई करना शुरू कर दिया।
मुझे जल्दी वाली चुदाई पसंद नहीं, लेकिन उसकी हालत को देख कर मैंने अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और उसकी कमर को पकड़ कर जोर जोर से सोनी की चुदाई करने लगा।
कुछ देर के बाद, मेरा वीर्य उसकी चूत में गिर रहा था।
थोड़ी देर में, उसके ऊपर लेटा रहा और फिर उसे अपनी बाँहों में लेकर पलट गया.
मैं नीचे आ गया और वो ऊपर थी..
उसके बूब्स, मेरे सीने से दबे थे..
मैं अपने दोनों हाथों से, उसके चूतड़ पकड़े था।
थोड़ी देर तक, हम वैसे ही लेटे रहे, फिर सोनी उठी तो मेरा वीर्य उसकी चूत से निकल कर लंड के आस पास फैला था।
मैं उसे लेकर बाथरूम में गया और डेटॉल हैंड वॉश से उसकी चूत, अच्छे से धो दिया..
उसे जलन हो रही थी।
इस तरह, सोनी की चूत मैंने पहली बार चोदी।
धन्यवाद…
Meri Sex Story – Chahat Se Chut Tak 3